स्पर्धा में जीतने के लिए तेजी से हॉटडॉग खाते समय गला हुआ चोक, युवती की हो गई मौत

न्यूयार्क . खाने-पीने के शौकीनों के लिए आयोजित होनी एक स्पर्धा में एक लड़की को जीतने के लिए तेजी से खाने के दौरान गला चोक होने से अपनी जान गंवानी पड़ी. अमेरिका की रहने वाली एक 20 साल की लड़की मैडी को ही क्या पता था, कि वो हॉटडॉग खाते-खाते इस दुनिया से विदा ले लेगी. मैडलिन मैडी यूनिवर्सिटी कैंपस से बाहर हॉटडॉग खाने की प्रतियोगिता में हिस्सा ले रही थीं. इसी दौरान गले में हॉटडॉग फंसने की वजह से उनका गला चोक हो गया और ये उसकी ज़िंदगी का आखिरी दिन साबित हुआ. मैडलिन टफ्ट्स यूनिवर्सिटी की छात्रा थीं और कैंपस में काफी लोकप्रिय थीं. उन्हें दुर्घटना के तुरंत बाद बोस्टन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा था. डॉक्टरों (Doctors) की तमाम कोशिश के बाद भी मैडलिन की जान नहीं बच सकी और दुर्घटना के अगले ही दिन उसकी मौत हो गई. इस दर्दनाक हादसे के बाद मैडलिन के परिवार समेत उसे जानने वाले सभी लोग स्तब्ध रह गए.

मैडलिन मैडी यूनिवर्सिटी में काफी मशहूर थीं, क्योंकि वो लैक्रोस की बेहतरीन खिलाड़ी थीं. यूनिवर्सिटी के छात्रों ने उसकी नंबर 2 की जर्सी को रखकर उसे याद किया. दुर्घटना के बाद सभी क्लासमेट्स ने इकट्ठा होकर मैडलिन को श्रद्धांजलि दी. लोगों को यकीन ही नहीं हो रहा था कि मैडलिन इतनी छोटी उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह चुकी हैं. उनकी टीम से लेकर परिवार और रिश्तेदारों को भी इस मौत से गहरा सदमा लगा है.

मैडी के परिवारवालों को इस दुख से उबारने के लिए मैडलिन के दोस्तों ने मिलकर एक फंडरेज़िंग कैंपेन शुरू किया है. इसके ज़रिए फंड इकट्ठा करने के बाद उसे मैडलिन के परिवार को दिया जाएगा. मैडलिन के इंस्टाग्राम अकाउंट पर भी उसको श्रद्धांजलि दिए जाने का सिलसिला जारी है. लोगों ने कहा है कि मैडलिन न सिर्फ अच्छी दोस्त और अच्छी इंसान थी, बल्कि वो रिश्तों की वैल्यू करना भी जानती थी. खुशमिज़ाज मैडलिन के साथ हुए हादसे का दर्द हर किसी को है, साथ ही ये घटना इस बात का भी सबक है कि किसी भी ऐसे कॉम्पटीशन में हिस्सा लेने से पहले अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करनी ज़रूरी है.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *