Thursday , 21 October 2021

तृणमूल सांसद की पत्नी ने पीएमएलए मामले में समन को दिल्ली हाई कोर्ट में चुनौती दी

कोलकाता (Kolkata) . तृणमूल कांग्रेस के सांसद (Member of parliament) अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) में कथित कोयला घोटाले से जुड़े धन शोधन के मामले में पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय से जारी समन को रद्द करने का अनुरोध दिल्ली उच्च न्यायालय से किया. दोनों ने कहा कि वे कोलकाता (Kolkata) के रहने वाले हैं और उन्हें दिल्ली में जांच में सहयोग करने के लिए विवश नहीं किया जाना चाहिए. अदालत के समक्ष यह अर्जी तुरंत सुनवाई के अनुरोध के साथ आई है और इस पर 21 अगस्त को सुनवाई होने की संभावना है. गौरतलब है कि इसी दिन अभिषेक और उनकी पत्नी रुजिरा बनर्जी से दिल्ली में जांच एजेंसी के समक्ष पेश होने और सभी दस्तावेज पेश करने को कहा गया है. पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री (Chief Minister) ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक और उनकी पत्नी ने 10 सितंबर के समन को चुनौती दी है और अनुरोध किया है कि ईडी का निर्देश दिया जाए कि वह दोनों को इस मामले की जांच में सहयोग के लिए दिल्ली आने को बाध्य ना करे. डायमंड हार्बर सीट से सांसद (Member of parliament) 33 वर्षीय अभिषेक तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव भी हैं. याचिका में कहा गया है कि सीआरपीसी की धारा 160 के तहत महिलाओं को ज्यादा सुरक्षा दी गई है और उसके अनुसार महिला को अपने निवास वाले शहर से बाहर जांच में शामिल होने जाने की आवश्यकता नहीं है.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *