चीन की शह पर WHO का तुगलकी फरमान, भारत की हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा पर लगाई रोक


नई दिल्ली (New Delhi). विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) (डब्लूएचओ) ने मलेरिया की दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का कोविड-19 (Kovid-19) के मरीजों पर क्लीनिकल ट्रायल सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए अस्थायी तौर पर रोकने का फैसला किया है. एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया था कि इस दवाई से कोरोना मरीजों को फायदा होने के बजाए ज्यादा नुकसान है. डब्लूएचओ के इस फैसले पर सोशल मीडिया (Media) पर लोग सवाल उठा रहे हैं और इसे चीन से जोड़ रहे हैं. खास बात ये है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप विश्व संस्था पर चीन की तरफदारी का आरोप लगा चुके हैं. स्वास्थ्य के क्षेत्र में दुनियाभर के रिसर्च प्रकाशित करने वाली मशहूर पत्रिका द लैंसेट ने दावा किया था कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन लेने वाले कोरोना मरीजों के मौत की संख्या दवा नहीं लेने वाले मरीजों की संख्या में ज्यादा है.

  आईसीएआई ने कहा, प्रस्तावित सीए की परीक्षाएं आयोजित करने व्यवहार्यता का आकलन करेगा

चीन की तरफ उठी उंगुली

इस फैसले के पीछे सोशल मीडिया (Media) पर लोग चीन का हाथ बता रहे हैं. क्योंकि बाकी किसी अन्य ड्रग के ट्रायल पर रोक नहीं लगी है बल्कि भारत में बनने वाली हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के ट्रायल पर रोक लगी है. नेल्सन एफ सिल्वा नामक एक ट्वीटर यूजर ने लिखा प्रिय राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप. चीन ने अपने लैब में कोरोना के इलाज के लिए वैक्सीन की खोज कर ली है. और इसके परिणामस्वरूप डब्लूएचओ ने चीन के आग्रह पर हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के ट्रायल पर रोक लगा दी है.

  कैट के “भारतीय सामान-हमारा अभिमान अभियान को मिला कई संगठनों का समर्थन

ब्राजील बोला, जारी रखेंगे इस्तेमाल

इस बीच, ब्राजील ने कहा है कि डब्लूएचओ के ट्रायल पर अस्थायी तौर पर रोक लगाने के बाद भी वह कोविड-19 (Kovid-19) के इलाज के लिए हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के इस्तेमाल पर रोक नहीं लगाएगा. ट्रंप के तरह ही ब्राजील के राष्ट्रपति ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोल्सोना (Gold)रो ने भी कोरोना (Corona virus) के इलाज के लिए हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के इस्तेमाल की वकालत की थी.

  बीएसएनएल ने दिया चीनी कंपनी को बड़ा झटका

Check Also

बीएसएनएल ने दिया चीनी कंपनी को बड़ा झटका

नई दिल्‍ली . सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी बीएसएनएल ने 4जी दूरसंचार नेटवर्क उन्नत बनाने …