केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कीटनाशक प्रबंधन विधेयक 2020 के मसौदे को मंजूरी दी


नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कीटनाशक प्रबंधन विधेयक 2020 के मसौदे को बुधवार को मंजूरी दे दी. जिसमें कीटनाशक का सुरक्षित एवं प्रभावी उपयोग सुनिश्चित करने पर जोर दिया गया है. पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में मंजूरी दी गई. सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बैठक के बाद बताया कि 2008 में कीटनाशक प्रबंधन विधेयक आया था लेकिन वह संसद से पारित नहीं हो सका. उस विधेयक को वापस लेकर और स्थायी समिति की सिफारिशों एवं अन्य सुझावों पर विचार करने के बाद नये रूप में कीटनाशक प्रबंधन विधेयक 2020 लाने जा रहे हैं.

  म्यांमार में सैन्य कार्रवाई का अंदेशा, हजारों ने छोड़ा घर

उन्होंने कहा कि इसे संसद में पेश किया जायेगा. जावड़ेकर ने कहा कि यह मोदी सरकार की किसानों के कल्याण के लिये एक और पहल है. इसका उद्देश्य किसानों को सुरक्षित एवं प्रभावी कीटनाशक उपलब्ध कराना है जो फसलों की दृष्टि से सुरक्षित एवं प्रभावी हो. विधेयक में किसानों को नकली और अनधिकृत कीटनाशक से बचाने के उपाय किये हैं. विधेयक के मुताबिक अगर कोई मिलावटी कीटनाशक और बिना पंजीकरण वाला कीटनाशक बेचता है तब उस पर जुर्माना लगाया जा सकता है और आपराधिक मामला भी चलाया जा सकता है.

  मप्र के राज्यपाल की लाल जी टंडन की हालत स्थिर, वेंटीलेटर पर स्थानांतरित

Check Also

तीन होटलों में देह व्यापार का भंडाफोड़, विदेशी सहित पूर्वोत्तर राज्यों से बुलाई गई थी 7 युवतियां

उदयपुर (Udaipur). जिस्म के कारोबार को लेकर बुधवार (Wednesday) शाम को जिला पुलिस (Police) की …