धोखाधड़ी और फर्जी दस्तावेज पेश करने पर यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार को जेल भेजा


लखनऊ (Lucknow). उत्तरप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है. उनपर धोखाधड़ी और फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत करने का आरोप है.

कांग्रेस प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने बताया कि बुधवार (Wednesday) देर रात लल्लू को लखनऊ (Lucknow) लाया गया और उनका चिकित्सीय परीक्षण कराया गया. बाद में उन्हें मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रस्तुत किया गया और 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. कल देर रात लल्लू को अस्थायी जेल में रखा गया था. कोरोना (Corona virus) की रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि नहीं होने के बाद उन्हें लखनऊ (Lucknow) जेल भेज दिया गया.

  चीन की शह पर WHO का तुगलकी फरमान, भारत की हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा पर लगाई रोक

इससे पहले लल्लू को आगरा (Agra) की एक अदालत ने बुधवार (Wednesday) को अंतरिम जमानत दे दी थी और उन्हें 20 हजार रूपये के निजी मुचलके पर रिहा कर दिया. हालांकि लखनऊ (Lucknow) पुलिस (Police) की टीम ने एक मामले में उन्हें पुन: गिरफ्तार कर लिया था. लल्लू के खिलाफ फतेहपुर सीकरी थाने में भारतीय दंड संहिता एवं महामारी (Epidemic) अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

  शाओमी का मिडरेंज स्मार्टफोन जल्द लॉन्च होगा, कम कीमत में मिलेंगे धांसू फीचर्स

उन्हें मंगलवार (Tuesday) शाम को गिरफ्तार किया गया और अन्य कांग्रेस नेताओं के साथ पुलिस (Police) लाइन में रखा गया था. मंगलवार (Tuesday) रात को लल्लू और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के निजी सचिव तथा अन्य के खिलाफ हजरतगंज थाने में धोखाधड़ी और फर्जी दस्तावेज पेश करने से संबंधित आईपीसी की धाराओं के तहत एफआईआर (First Information Report) दर्ज की गई थी.

  जून में संसदीय समितियों की बैठक शुरू होंगी, राज्यसभा के लंबित मतदान भी जून माह में होने की संभावना

Check Also

प्रवासी मजदूरों की हालत पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को नोटिस जारी किया

नई दिल्ली (New Delhi). कोरोना लॉक डाउन के बीच परेशान हो रहे प्रवासी मजदूरों की …