Thursday , 28 January 2021

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते केस से डरे यूपी, हरियाणा, महाराष्ट्र


नई दिल्ली (New Delhi) .देश की राजधानी इन दिनों कोरोना से अभूतपूर्व संकट से जूझ रही है. देश के विभिन्न हिस्सों से लोगों का दिल्ली आना जाना लगा रहता है. ऐसे में स्थानीय प्रशासन इस बात को लेकर चिंतित है कि कहीं दिल्ली से लोग अपने साथ वायरस न ले आएं. इसके चलते विभिन्न प्रकार की पाबंदियां और अतिरिक्त सावधानी बरती जा रही है. महाराष्ट्र (Maharashtra) सरकार ने भी दिल्ली से आने वालों के लिए बड़ा फैसला किया है.

राज्य में आने वालों को कोरोना की रिपोर्ट दिखानी होगी, तभी राज्य में प्रवेश दिया जाएगा. वहीं, यूपी के बरेली (Bareilly) में तो प्रशासन ने स्थानीय बाशिंदों से अपील की है कि अगर कोई दिल्ली से आए तो उसकी सूचना कंट्रोल रूम को दें. देखते हैं दिल्लीवालों को लेकर कहां क्या एहतियात बरते जा रहे हैं. दिल्ली से सटे गाजियाबाद (Ghaziabad) हरियाणा (Haryana) और नोएडा (Noida) में भी बॉर्डर के पास कोरोना की जांच तेज कर दी गई है. सभी प्रमुख प्रवेश मार्गों पर लोगों की रैंडम जांच की जा रही है. यहीं नहीं छोटे-छोटे प्रवेश मार्गों को बंद कर दिया गया है. दरअसल गाजियाबाद (Ghaziabad) -नोएडा (Noida) और हरियाणा (Haryana) के हजारों लोग हर दिन दिल्ली आते-जाते हैं. इसके चलते इन जिलों के प्रशासन ने दिल्ली से आने वालों पर निगरानी कड़ी कर दी है.

  राशिफल : संवेदनशील होने से बचिये नहीं तो अपने किये पर पक्षताना पड़ेगा

दिल्ली से गाजियाबाद (Ghaziabad) आने वाले सभी मार्गों पर विशेष जांच अभियान चलाया जा रहा है.बरेली (Bareilly) के फतेहगंज पश्चिमी में झुमका चौराहे पर मोबाइल मेडिकल यूनिट तैनात की गई है. दिल्ली की तरफ से आने वाले प्राइवेट वाहन सवार बीमार और 50 साल से अधिक उम्र के लोगों की एंटीजेन किट से जांच हो रही है. कोविड अस्पताल में पहली वरीयता में सैम्पलिंग का आदेश दिया गया है. शाहजहांपुर (Shahjahanpur) में दिल्ली से आने वालों की कोरोना संक्रमण जांच के लिए टीमों को अलर्ट किया गया है. अगर हालात खराब होते हैं तो दिल्ली से आने वालों को होमआइसोलेट किया जाएगा.

  नाकु ला की घटना को सेना ने बताया मामूली झड़प

बदायूं में रोडवेज बस अड्डे पर अगर यात्री थर्मल स्क्रीनिंग में संदिग्ध पाया जाता है तो तत्काल उसकी किट से कोरेना की जांच होगी और अगर कोरोना पॉजिटिव निकलता है तो उसे क्वारंटीन कराने के साथ ही उपचार दिया जाएगा. वहीं, प्रयागराज (Prayagraj)में दिल्ली से आने वाले लोगों की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से अलग अलग टीम गठन का दावा किया गया है. यह भी कहा गया है कि बगैर जांच किसी को भी शहर में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा. प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि अगर उनके पड़ोस में कोई शख्स दिल्ली से आया है तो उसकी सूचना प्रशासन को दें.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *