Saturday , 27 February 2021

साप्ताहिक समीक्षा बैठक : कलक्टर ने लम्बित प्रकरणों के समयबद्ध निस्तारण पर दिया जोर


उदयपुर (Udaipur). जिला कलक्टर (District Collector) चेतन देवड़ा ने सोमवार (Monday) को कलेक्ट्रेट सभागार में विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक लेकर लम्बे समय से पेंडिंग प्रकरण को शीघ्र निस्तारित करने के निर्देश दिए. बैठक में विभिन्न विभागीय अधिकारियों से बजट घोषणा की प्रगति, सम्पर्क पोर्टल, सीएम हेल्पलाइन, जनसुनवाई व सतर्कता प्रकरण, लोक सेवा गारन्टी में प्रगति, पीएमओ, सीएमओ व गर्वनर हाउस से जुड़े प्रकरणों के निस्तारण एवं विभागीय गतिविधियों व योजनाओं की प्रगति पर समीक्षा की गई.

कलक्टर ने कहा कि कोई भी परिवादी आपके पास शिकायत लेकर आता है तो उसका समय पर निस्तारण करना पहली प्राथमिकता है. इसके लिए निर्धारित सिस्टम के अनुरूप कार्य करे, किसी भी पोर्टल पर कोई शिकायत दर्ज होती है तो उसके संबंध में की गई कार्यवाही, पत्राचार या प्रकरण के निस्तारण की सूचना भी संबंधित पोर्टल पर अपडेट करें. उन्होंने हर पोर्टल पर निर्धारित अवधि में पारदर्शिता के साथ आमजन को राहत प्रदान करने के निर्देश दिए.

  जयपुर एयरपोर्ट पर 18 लाख का मोबाइल बरामद, विदेशी करेंसी भी मिली

जिला कलक्टर (District Collector) ने लोक सेवा गारंटी अधिनियम और सुनवाई का अधिकार को प्रभावी बनाते हुए इसमें आमजन से जुड़े प्रकरणों के शीघ्र निस्तारण की बात कही. उन्होंने बजट घोषणाओं के तहत स्वीकृत कार्यों को सरकार को मंशा के अनुरूप आमजन के हित शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए. उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अधीन उपखण्ड अथवा ब्लॉक स्तर के अधिकारियों से नियमित फीडबैक ले और समय समय पर प्रगति की जानकारी लेकर जारी कार्यों को शीघ्र पूरा करें.

  वेदांता चैयमेन अनिल अग्रवाल ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भेंट की ‘समाधान‘ परियोजना में उगाई स्ट्रॉबेरी

जिला कलक्टर (District Collector) ने विभागवार दर्ज विभिन्न प्रकरणों की समीक्षा करते हुए उन पर अब तक की गई कार्यवाही का फीडबैक लिया और संबंधित विभागों से बजट घोषणाओं के तहत किये गये कार्यों एव जारी कार्यों की प्रगति पर चर्चा की. उन्होंने लम्बे समय से चल रहे कार्यों को गति प्रदान करने के निर्देश दिए.

  जैकलीन ने जैसलमेर में लिया राजस्थानी भोजन का आनंद

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (District Collector) (शहर), लोक सेवा विद्युत, जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी, जल संसाधन, सार्वजनिक निर्माण व एनएच, आरएसआरडीसी, आवासन मण्डल, एनएचएआई, कोष कार्यालय, सूचना एवं प्रौद्योगिकी एव भू-जल संरक्षण सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *