जेलो में अब महिला प्रहरी सुरक्षा की कमान संभालेगी

जयपुर. प्रदेश की जेलों में अब कुख्यात बंदियों के बीच महिला प्रहरी सुरक्षा की कमान संभालेगी इस बदलाव के संबंध में हाल ही में जेल मुख्यालय ने निर्देश जारी किए है महिला सुरक्षा प्रहरियों को रात्रि ड्यूटी दी जाएगी केंद्रीय कारागृह उदयपुर में यह व्यवस्था 10 फरवरी के बाद लागू होगी.

केंद्रीय कारागृह उदयपुर के जेल अधीक्षक सुरेंद्र सिंह शेखावत ने बताया कि उदयपुर में फिलहाल 12 महिला सुरक्षा प्रहरी है जल्दी ही रिक्त पदों पर नियुक्ति होने के बाद जेलों की सुरक्षा व्यवस्था में बदलाव किया जाएगा. जेल मुख्यालय के नए आदेश के अनुसार इन महिला प्रहरियों को रात 8: 00 बजे से सुबह 4:00 बजे तक जेल के अंदर ड्यूटी पर तैनात किया जाएगा. महिला प्रहरियों के जेल से बाहर निकलने के बाद बंदियों को बाहर निकालने के लिए बैरक खोले जाएंगे. रात में यहां एक क्यूआरटी टीम जेल गेट पर तैनात रहेगी. टीम में इंचार्ज सहित चार पुरुष प्रहरी और एक महिला प्रहरी की ड्यूटी रहेगी.

  सड़क प्रदर्शन करने के लिए नहीं : सुप्रीम कोर्ट

उदयपुर के केंद्रीय कारागृह में आगामी 10 फरवरी बाद से यह बदलाव किए जाएंगे प्रदेश में जेल विभाग में प्रहरियों के 2907 पद स्वीकृत हैं, जबकि फिलहाल नियुक्ति 2457 की ही है. अधिकतर महिला जेल प्रहरियों की नियुक्तियां केन्द्रीय कारागृहों में हुई है इससे केन्द्रीय कारागृहों में महिला प्रहरियों के 33 फीसदी या उससे ज्यादा तक भर चुके हैं नए आदेशों में कहा गया है कि महिला प्रहरियों की ड्यूटी के दौरान एक बार एक जेल अधिकारी गश्त निर्धारित करे गेट पर तैनात मुख्य प्रहरी समय-समय पर क्यूआटी टीम के साथ कारगृह के वार्डों की गश्त करेगा बंदियों में झगड़ा होने या किसी बंदी के बीमार होने पर क्यूआरटी टीम जेल के अंदर जाएगी और आवश्यक कार्रवाई करेगी. प्रहरियों की संख्या कम होने पर ड्यूटी का रोटेशन बदला जाए.

  ओलिंपिक मशाल कार्यक्रम के वैकल्पिक उपायों पर भी विचार कर रही आयोजन समिति

Check Also

गैगरेप, ब्लैकमेल से परेशान होकर खूद को जिंदा जलाने वाली 14 साल की किशोरी की मौत

बैतूल घटना के दोषियो को बख्शा नही जायेगा – गृहमंत्री भोपाल/बैतूल. मध्यप्रदेश के बैतूल जिले …